Vous êtes sur la page 1sur 13

Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

क़ारोबार सफा 1017 मह


के मुलका (खानावार) कारोबार

केतू नाभी के नीचे क इमली,ितल के फोडे फुंसीओं क कान का सुनना पेशाब गाह के खरगोश, पूजा सूअर गधे के केतु के मुलका कु
को बतौर मकान
क दोरं गे कमती ऐशो-आराम,
बमारय
के कारोबार उम बमारय
के (बहरापन) का मुलका करोबार ःथान के /योपार, कारोबार गैर 2यापार बेचने के बुिनयाद के प4थर के और ब8च
क
मुलका सामान के इलाज सामान, चारपाई मुबारक कारोबार. मुलका सामान कारोबार खेल
और खुशी
कारोबार कारोबार,केले ,+याज़
के के कारोबार पैदा करने के
(फल) के कारोबार मुलका
कारोबार कारोबार

राहू धुएँ के काम या सरस


के कोयले के लेकचर कथा मकान क छत
पालतू कु
का चाँद= के कारोबार झौला, हलक से ऊपर हअफज़ाने सेहत नीलम, नीला हाथी के सामान
नाना नानी के कारोबार कारोबार, हाथी वाता; के मुलका के काम गैर सामान , ज़ँज़ीर= वगैरह मालीखौिलया क बमारय
के के मुतका थोथा, के कारोबार्
साथ िमलकर दाँत गैर मुबारक कारोबार मुबारक , और दमागी मुतका कारोबार िस@का(नम; मगर क8चा
काम गैर बजली के बमारय
के कारोबार धात) , कोयला के काम
मुबारक िनहायत बडे बडे मुतका अलुिमिनयम गैर मुबारक
काम जो राज से कारोबार (Aजःत) के के
मुका ह
या मुतका
िनहायत अज़ीम कारोबार गैर
(बड= अपील
) के मुबारक मगर
मुका सोना के
कारोबार कारोबार मुबारक

सिनचर हलक के माश(उड़द बनाई का तेल हर Fकःम, सुरमा ःयाह का बनौले, प4थर बनाई के जहर=ली चीज
पुरानी लकड= दरयाई जानवर
रे ल
या तEतपोश या
मुलका सामान सालम) के डा@टर, खजूर सँगमरमर सफेद कारोबार के कोयले के मुतका सामान सँAखया, अफम, (टाहली, शीशम के कारोबार मकानात या बादाम के
मुबारक ककर मुतका दरEत के मकान के कारोबार , , सुरमा सफेद के चरस के या फलाह=) के लोहे के कारोबार कारोबार
के दरखत के कारोबार कारोबार मुतका मगर इं Aजिनयर मुलका कारोबार सामान
करोबार गैर मकान नह=ं. कारोबार,
मुबारक

बुध जुबान , िसर के मूँग और अँडे के, दमा का डा@टर, तोता कलमी, बाँस के कारोबार, फूल के कारोबार, हर= घास के हर तरह के जँगली दरEत
दाँत के कारोबार सीप ,ह=रे , Aखलौने के
ढाँचे के मुतका एश इशरत , राग भतीजी को मदद क8चे घडे के पोती क मदद से या ःटे शनर= क मुलका 2यापार नाक़स के कारोबार् गैर या शराब क फटकड़= के काम कारोबार, मगर
कारोबार के सामान, दे ने से 2यापार मH काम मुबारक हर दम बरकत दु कान कारोबार पJठे मगर खाँड या मुबारक , बज़ुगM दु कानH, ढोल और अदालत
से सJटा वगैरह गैर
कलम क िनब मुबारक (लड़Fकय
) और ढाचL के खाने पीने के िलशे चर के हर Fकःम के मुलका काम. मुबारक
के कारोबार कारोबार कारोबार बेहतर मुलका राग के सामान
कारोबार के

FinePrint Software, LLC 1


16 Napier Lane
San Francisco, CA 94133
Tel: 415-989-2722
Fax: 209-821-7869
www.fineprint.com

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

मँगल सOफ के कारोबार दरं द


के हाथी दाँत के कड़वे दरEत
Fहकमत पेट के मुलका दाल मसूर, मकान के तमाम फलीदार शहद ,मीठे सँधूर, लाल िगलो और कऔवी
मुबारक मगर मुलका कारोबार और तवार
के (हकमी) सामान और फलीदार कारोबार Aजन चीजH, खुँक भोजन के (धात) के काम दवाइय
के
दाँत
के मुलका कारोबार कारोबार गैर बीमारय
के पौधे,अजवायन चीज
मे मशीन
फल (मेवे) , सुख ; कारोबार कारोबार
कारोबार मुबारक मगर मुलका के कारोबार का तालुक़ हो. रँ ग और खून के
गैरमुबारक मृ गशाला के मुलका मुलका अिसयाँ
कारोबार उम कारोबार के कारोबार.

शुकर बादशाह= औरत


आलू, घी , अॄक गृ हःती औरत
चौपाया, चरं द, आवा (Tट
का) परँ द
के फल,खेती के ज़मीन दोज़ शकरकँद=, िमJट= और Vई, मोती(दह= मवेिशय
और
के इःतेमाल क सफेद के के मुलका काम और दह= के भJटा कारोबार कारोबार, चर=, तरकारयU के मीठाई मगर कपास के रँ ग), सफेद दह= AWय
के रात के
आिसयाँ के कारोबार, मुँक के कारोबार कारोबार गैरमुबारक, काँसी के बरतन, कारोबार हलवाई बनने क कारोबार रँ ग क आिसयाँ आराम के
कारोबार काफूर के मगर गैस और गाय के मुतलका शत; नह=ं, तमाम के कारोबार सामान के
कारोबार गुड़ वगैरह के कारोबार फलदार चीज
के मुलका
2यापार कारोबार कारोबार
मददगार.

चँदर बाग बगीचे के चावल और घोड़ा िचरायता बज़ाजी के काम, लऔके लAऔकय
सफर के मुलक खेती क समुँदर के जायदाद जX= के नशे क चीज
मोितय
(दू ध पालतू जानवर

मुलका के मुलका मुःसफा खून- तालाब चँमा, क तालीम के सामान के कारोबार और मुलका मुलका और पानी मH रं ग) के कारोबार के कारोबार
कारोबार कारोबार दवाईय
के काम कूआँ के कारोबार् मुलका कारोबार मकान क तह कारोबार कारोबार घुली हु ई दवाईय
,आम पानी के
कारोबार ज़मीन के मँदा असर दH गी, मुलका
मुलका काम , खुँक दवाईयाँ कारोबार मंदा
बफ; के कारोबार और Fदल को तर फल दH गे.
करने वाली
आिसयाँ मुबारक
फल दH गी.

सूरज राज दरबार से गँदम बाजरा भतीज


के साथ पानी और रे शम बंदर
और ब8च
दोहते के साथ से गाय का 2यापार रथ गाड़= के मवेिशय
के मकान और भZस ताँबे के कारोबार आटा च@क
मुलका काम खाने के अनाज से कारोबार के कारोबार, के मुलका कारोबार मुबारक िनकYमा मगर मुलका मुलका के मुलका पीसने के
के कारोबार भूआ के बेटे के कारोबार चाँद= दू ध के कारोबार कारोबार कारोबार कारोबार
साथ से कारोबार कारोबार मुबारक

बृ हःपित Fकिमयागर िमJट= के तालीम का सोना और सूँघने क कमती परं द


के Fकताब
क पहाड़= इलाका धम; अःथान के लोहे के कारोबार रोड गोड पीतल या पीतल
मगर फज़M दम कारोबार सोना कारोबार आबपासी का खुँबूदार चीज
कारोबार दु कान और दमा के कारोबार कारोबार पूजा िगट मुलYमा के कारोबार.
Fदलासे ,पीले रं गो दH गे सोने के कारोबार के कारोबार क बमारय
के का सामान, गैस के कारोबार
क चीज
के कारोबार िमJट= काम नुक़सान के काम
मुलका कर दH गे. का बाइस ह
गे,
कारोबार मगर दू ध दह= के
2

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

कारोबार मुबारक
फल दH गे.

मह
के मुलका रँतेदार (खानावार)

केतू इकलौता बेटा साला भतीजा मासी का बेटा पोता, मामू दोहता भाँजा अपना मगर मौत
के मारे खानदान का पूरा चचा का लड़का यतीम खाना का हर दु ख को सुख
उसका खुआह दू सरा लड़का मातम का ह= बफादार गुलाम ब8चा मगर हर मे बदल दे ने
माता का छोटा ठे केदार लड़का तरह सेअ वाला लड़का
भाई खुआह बड़ा होनहार मद[ार
भाई

राहू बिनया तबयत ससुर(मद; के टे वे दौलत क दोःती धमा; 4मा माता ब8च
के बेचने लAऔकय
के ससुराल तलवार को नाAःतक दोःत लोक लाज मौके जािलम जलाद रात के व\ न
का हाकम मH. औरत का को आAखर तक का छोटा भाई का 2यापार= ससुर खानदान के घर प4थर क बजाय जो टJट= पेशाब के मुताबक Aजस के खून मH िसफ; खुद
ससुर बृ हःपत से िनभाने वाला का Aजःम पर ह= के िलये मंFदर ह= चलने वाला इस क पुशत
से दु Aखया बAक
मुराद होगी मुहाफज मािलखौिलया तेज करने वाला पसंद करे . अपना बज़ुग; जुम जकरने दू सर
के िलये
(बेहद बोलते कसाई का मादा पल रहा भी दु ख पैदा
जाना ) का मारा हो करदे ने क
हु आ पागल Fकःमत का
मालक, यािन
खुद-अःत शर=फ
मगर इस के दु ख
क ^यादती
दू सर
को रात
का आराम न
लेने दे वे,
फालतू खच;
आम वजह होगा.

सिनचर यक तरफ ससुर का भाई खानदानी मासड़ (मासी का बेवफा गुलाम नाशुकरा अँध
को आँखH कॄःतान के उजड़
को बसाने चाचा मगर पूरा धमा; 4मा कुदरत का भेजा
तबयत का मजदू र मगर खावंद) रँतेदार दे ने वाला तालुक का वाला, अपनी इ^जत और और गैरतमंद हु आ पूरा खुँक
बेिलहाज हाकम, पुँत दर पुशत लऔकेलड़Fकय
मददगार भँडार=, रँतेदार जो न बजुगM तालुक मान का मािलक चौकदार और तारता ह=
मेहरबान तो तालुकदार का तालुकदार (खुआह Fकसी के बुरे मH का रँतेदार. जानेवाला
तारे गा वना; सब खानदान ससुर और न भले मH मेहरबान दोःत
कुछ नीलाम खुआह खानदान हो.

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

करवा कर ह= अपना)
छोड़े गा.

बुध बड़= लड़क साली (बगैर बड़= बहन अपनी मासी क िमली िमलाई अपनी लड़क गृ हAःत तालुक बन बताये िसर अपने बाबे क जाFहरा हो तो अपने बाप के हर दो व\ और
शाद= शुदा) लड़क गौर शाद= शुदा के िलहाज से काटने वाली लड़क मगर बFहन मगर जब असली खून क हर दो मद; और
औरत, तारने पे आम लड़क जो कॄःतान क हकक खून क Fदल चाहे औरत लड़क कई दफा औरत के साथ
आवे तो हद से सब को तारे बासन (रहने शत; नह=ं बन बैठे और उलू क बेहया लड़क.
^यादा वाली) लड़क Fफर बहन हो पJठaऔर
भा_यवान वरना जावे.पूण; धोके बेवकूफ
कुल गारत, हर बाज
तरह दु ख के
च@कर क
मालक

मँगल तलवार का धनी बड़ा भाई ताया माता का बड़ा ब8च


के दोःत बहनोई हकक भाई या छोट
के िलये बाबा का भाई बाप का धम; भाई बाप का फजM बड़े भाई के खून
और नसीब का भाई हकक साला कसाई भाई भाई का +यासा भाई
मािलक आम
भाई

शुकर खावंद (औरत के साली शाद= शुदा भाभी भरजाई- हYखुआया यार ऐसे मद; औरत ऐसी औरत जो AW (मद; के टे वे बदजुबान औरत हद से ^यादा मेले क नुमाइश पूरे मद; के लआमी सुख का
टे वे मH) बीवी भाई क औरत दोःत(ब8च
क Aजन को उनके रोट= खाने मH मH) खावंद ( जो कोई भी शम;सार= क क पसंद=दा हर बराबर वरना कारण.
(मद; के टे वे मH), शत; नह=ं) अपने ब8चे उbहH होिशयार मगर औरत के टे वे मH) रँतेदार= ना वजह से बीमार= व\ धुली धुलाई नामद; ,
मेर= जान तेर= बाप न कहH गे औलाद बनाने मH जो आAखर तक माने से मार= हु ई दु लहन दरिमयान मH
जान ऐसी जोड़= और बाप न अमूमन गृ हAःत मे साथ अबला औरत नह=ं.
Aजस क मानHगे नाकामयाब पूरा करे .
बुिनयाद िसफ; यािन जो ब8चे
दौलत पर हो, बनाने मे लगी
माया कायम तो रहने क Eवाहश
जोड़= कायम मंद, मगर ब8चे
वरना जगह का बन ह= जाना
दे खHगे. या पालना पसंद
न करे .

चँदर राजा क रानी धम; माता (कोई हमसाया माता मासी माता जब उकसाई गई नानी गृ हAःत 2य2हार ताई खानदान मH सब चाची पेशाब से परवार सास
भी वृ Xः जो धम; तो बगैर लड़ाई क मेल जोल क से लंबी उमर क तौलने वाली
माता के तौर पर के रोट= न हज़म कोई भी माता (दाद=) बुFढया
4

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

मुकर; र हो) ह
गे के असूल मेहरबान जगत रँतेदार= क
क माता लआमी माता शत; नह=ं

सूरज अपना आप हम धारक पेशवा िमbनत क अपने मुँह क अईल का बानी जब भड़क उठे ये घर आबाद सारा ॄgाँड पैदा हर बगड़= को हमचू मा द=गरे ब8चे िनकलने मर तो जाँएगे
और हमार हु कम कानूनी ढं ग पर बजाए पोिलस के रोट= िनकाल कर बजुग; धन और तो फ/त और आदमी खु श हो गया, मगर बनाने वाला नेःत (हमारे से पहले अंडे ह= मगर िनशानी
डं डे से अपनी ब8च
को दे ने नसीबा के शत; मुAँकल और @य
है -के हसद उन क आशा मेहरबान दोःत बराबर कोई खा जाने वाला छोड़े (बाल ब8चे)
दोःत बनाने वाला बाप नह=ं Fफर बगैर लड़े का मारा हु आ Fफर भी न पूर= दू सरा नह=ं ) के जालम अगर बगैर नह=ं जाएँगे
वाला रोट= हएम न हो. गृ हःत हु ई -वाला ूाणी एकदाद का धमा; 4मा तो के नसीबा का
मािलक इं सान इं साफ का मािलक बाप
आAखर= दरजे
का हाकम

बृ हःपित गX= नशीन जगत गुi खानदान का राजा महाराजा ःकूल माःटर बजुग; मेहमान िनध;न मगर आम दु िनयावी खानदान मH उधारा बाप िसफ; खुद ब खुद और बेFफकर बाप
साधू, बाप बाबा पुजार= औरत के मुAखया पूण; ॄg jानी जो Fदल से उमर के िलहाज उमर से सब से जbम दाता बन बुलाए बाप Aजसे कुल क
दादा बृ हःपित टे वे मे ससुराल बूढ़ा उमर का से हम ज़माना बड़ा , मगर के बराबर का Fफकर न हो ,
सूरज मुँतका; मH मुराद होगी बेशक जवान हो मदl मH बाबे के रँतेदार= क मददगार (आसुदा हाल)
बृ हःपित पता बराबर का मद; शत; नह=ं
और सूरज लऔके
से मुराद होगी

मुँतका; मह
क मुलका अिशयाँ

नाम मह बृ हAःm केतु बृ हAःm चँदर सूरज चंदर सूरज शुकर सूरज बुध चँदर बुध चँदर सिनचर शुकर मँगल शुकर सिनचर शुकर बुध मँगल (बद) बुध मँगल (नेक) बुध

नाम चीज जद; लीYबू बढ़ का दरEत बढ़ का दरEत लाल मनूर, लाल सरस/ज पहाड़ , माँ धी , दरया के काली ःयाह=, िमJट= का तँद ू र , काली मसनूई सूरज, आतशी शीशा, सुभर(लाल
खालस दू ध, िमJट=(जलकर लाल फट@ड़=, पानी मे रे त, पानी के मीठा अनाज, िमच;(सिनचर) तराजू, रे तीली लड़क क लाल कपड़ा जो लड़क
अलीची (फल) लाल शीशा सफेद टु िनया तोता, बावली,(मानंद गेV,(लाल और घी(शुकर) िमJट=, आटा चमकले को शाद= के व\
घोड़ा टाँगा शुदा,गाजनी हँ स परं दा, कूआँ कूआँ), उटा िमJट=) ,ःयाह काला पीसने क च@क कपड़े ,अनार का पहनाते हZ ) लाल
लाल, काँसी का मय सीढ़=याँ, हिथयार जो मनूर, िमJट= का Aजस मे दो फल खूनी रँ ग मगर
@टोरा (पानी अपने माथे पर खुँक पहाड़ प4थर ह
चमकला न हो,
पीने का बत;न ) ह= लगता कँठa वाला राए
रहे ,क8छुआ(पा तोता
नी का जानवर)
बगड़ा हु आ दू ध,
मोटर लार= या

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

लोहे क सफर
क चीज, खूनी
कूआँ, दू ध मH
जहर

मँगल सिनचर बुध सिनचर बुध राहू बुध केतू सिनचर राहू ,

नारयल , छुहारा आम का दरखत ितिलयर(बढ़ के बरn एक साँप क मAण या


दरखत (चँदर जानवर है Aजस साँप क ज़हर
बृ हःपित ) पर से हाथी भी डर चूस लेने वाला
आम होता है ,जो कर भागता है , मणका
इस दरEत (चँदर
बृ हःपित ) के
फल को बबा;द
करता है .
989 खाना वार अिसयाँ

ताकत हवाई नाम Fकस इ^जत दौलत फराएज़,फज़; क हक़ पदर= हक़ पसर= िसफात- दु िनयावी मbद=( या मसVफ नेक ज़ाFहरा सलूक लालच आशीवा;द,
है िसयत का शर=फाना अदायगी, खुसरा,सुथरा, ज़ाFहदा;र= सbद=) िगराँ हालत ौाप,Eयाल
होगा बहादु र=, इं सानी वता;व भासरना या
तालुक साहू कारा,भाFक अचानक पैदा
या भाव अपार होना

मकान का चारFदवार=,तह Fकःम मकान सामान आराइश खाली तह ज़मीन हवा रौशनी का तह खाना का पलःतर, सुफेद=, pत व आग क हर Fहःसा क लोहा,ल@कड़ , जाFहदा;र= मकान आबाद वीराना
अंदर ज़मीन के गोशे घर बैठक या या पानी क तालुक़ Fहःसा मकान का जगह अँदVनी पैमाइश ईट प4थर,
दु कान जगह (बbनी बbनी) मलवा वगैरह
बना* (छत के
उपर खड़=
द=वार) मुँडेर
*बना मतलब
रँ गत(शुiआत)
द=वार क

ताकत Aजःम भूक,गमM नींद, ऐश जागृ त Aजःमानी सदn Aजःम बेदार= मगज़ कु2वत ए ताकत बदनी व पत मादा,बद- जागृ त -Vहानी आम सेहत लापरवाह= सफा;, Fक़फायत
हाज़मा, ज़ायका, Aजःम हज़मी साँस काली खाँसी शुमार=

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

खुँक Aजःम

िसफात परोपकार jान, नेक बद= नज़र का असर, शांती Fदली ईमानदार= फोक हYददn, गोयाई, Aज़न मुर=द=, खुद कम; घम; चालाक , होिशयार=, होश खुशामद, नेक
अँदVनी 1/4पुरानी मुलका दु िनया चोर=,अqयार=, हौसला नेअक शौहरत अँदVनी अ@ल दु िनयावी मँद= करतूत परोपकार- jानी म@कार= , नेक बदनामी, ज़ाती
रःमोआत क मोह माया,इँक बीमार= अपने फायदा के तालुक़, अँदVनी होिशयार=, मँद=
पसंद=दगी हवाई व जुबानी िलए दू र अँदेशी अ@ल दू सर
के शोहरत
फायदा के िलए

उमर के उमर का पहला ज़माने क हवाई पहली उँ गली उमर का दू सरा गृ हAःत परवार हर एक उँ गली उमर का तीसरा साधुपन या गृ हAःतय
को उपदे श चौथा Fहःसा 75 ता आAखर उमर बानपरAःथ
Fहःसे Fहःसा (बचपन) वाकFफयत या तज;नी क तीन
Fहःसा (गृ हAःत उbनित खुद क तीनो गाँठ
से Fहःसा 50-75 का जमान बुढ़ापा, सbयास ,आAखर= अवःथा
1 ता 25 साला बृहःपित का रािशय
का जवानी) 25 ता कमाई वगैरह तीन लोक या साला उमर
उमर अहद इकJठा िलया 50 साला उमर और सूरज का तीन
जमाने,
जमाना

हु आ असर Aजंदगी का पहला Fहःसा या ज़माना क (माझी, हाल, मुःतकबल या ज़मीन, आसमान या
हवा क वाA@फयत या बृ हःपित का अहद है , जो 25 पाताल) कारोबार से मुराद होगी. उँ गिलय
क नाखुन
साला उमर तक िगना है . दू सर= उँ गली अनािमका क वाली पr= पोर=य
या गाँठ
पर च@कर सँख , सदफ
रािशय
से सूरज का जमाना गृ हःत का तालुक 25- ज़ाFहरा Aज़ँदगी का ज़माना Fदन के काम काज बताते
50 खुद कमाई वगैराह होगा. तीसर= किनँका क हZ .
तीन रािशय
का साधूपन या गृ हAःतय
को उपदे श का
अरसा 50-75 होगा. चौथी उं गली मधमा क तीन

रािशय
का असर 75 -100 तक बन ूसित होगा

Fकःमत के Fकःमत का जाित Fकःमत Fकःमत का Fकःमत खुद Fकःमत क Fकःमत क Fकःमत का Fकःमत के धोके Fकःमत क Fकःमत का Fकःमत क Fकःमत का सुख
टु कड़े अपना मुलका दु िनया चढ़ाव व तँगी पहले हाAज़र होवे चमक पःती फैलाव या ध@के बुिनयाद हवाई बोझ या प4थर बुलँद= दु ख
अAEतयार बुिनयाद

तरफH ( मशरक़ शुमाल मगरब जनूब शुमाल मशरक मशरक द=वार शुमाल जनूब मगरब जनूबी द=वार सेहन मरकज मगरब मगरबी द=वार जनूब मशरक
सीमतH)

सामान ःवार=, रथ मोटर मुलका गैस जँग ओ जदल बजाजी पानी दू ध इलम, अकल, मुलका परं द खेती के 2योपार मुलका मुलका धम; खुराक,मशीनH मुलका मुलका एश ओ
मुलका गाड़= िमJट= तालीम मुलका 2योपार, हवाई , , हाAजर माल बमारयाँ, कारज , हकमी आमदन रफआ इशरत
राज दरबार गोबर जराह= आम

धन दौलत जाित खुद पैदा बचत अज जाित दू सरे तालुक धन दौलत के तालीमी धन, रँतेदार
का फालतू माया नुकसान , बचत अज पता का धन आमदन माया व Wी का
क Fकःम करदा कमाई, AW दार
का धन िनकास का औलाद का धन धन पराई दौलत बेआसर= माया बजुगाs जायदाद सुख (मद; औरत
धन,सbयास का चँमा अपने िलये का बाहमी सुख)
धन

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

वईत व राःते जमाना हाल, जbम मरन का इँ सान व माया माता के पेट का मुःतA@बल, पाताल, खवाब मैदान दु िनया मौत िनमाणी, जमाना माझी, Eयाली दु िनया, दु िनया का अंदर, आAखर= व\
मौजूदा व\, व\ दरवाजा का दु िनया से जमाना आइँ दा आने अःती वाःते जायदाद, दु िनया का बाहर पछला जbम , दसवाँ tार,व\ जbम व\,माया कूच का राःता,
^वानी , मौजीदा बाहर जाने का वाला जमाना माता का शाद= व इं सान का इस आकबत , Eवाब
जनम राःता (जbम) औलाद जमाना(iहानी), दु िनया के अंदर गाह, सोने व
के Fदन से बुढापे जमाना गैबी आने का राःता, आराम का व\
का जमाना दु िनया, बचपन मैदान Fकःमत
का जमाना आमदन

दु िनयावी राज तालुक बेवा या माशूका, बहन (गैर माता व नाना केतू औलाद का तमाम रँतेदार
औरत , लड़क , दु ँमन, ज़हमत बजुगM पता का सुख व\ जbम हYसाया का
तालुक दार पेशा कमाई का ससुर का घर या हकक)भाई बंदे खानदान दोःत मह है का बता;व पोती, बहन- बमार= दु ख वगैरह वादे नी माली तालुक सुख
मैदान वाःते धन ससुराल मद; के साले, बuोई, मगर मामू का हकक, हालत दु ख
दौलत टे वे मे ससुर से ताये, चाचे दु ँमन है आग
मुराद राहू क मदद

जानवर और *खड़े सीv ग


वाले पालतू गाय बैल शेर दरँ दे जँगली पानी के जानवर, आग के जानवर परँ दे कुा बकर= चरँ द, अँड
वाले जहर=ले, ब8छु, मLडक, हँ स हु मा, मगर म8छ, दो मुँह का साँप बली,
मवे शी जानवर या खड़े जानवर दू ध वाले जानवर,खाना ऊँट दरखत
को नील गाय,पानी साँप, मवे शी क चमगादड़,
सीv ग (बहै िसयत जांनवर, घोड़ा न: 1 के तबाह करने वाले व खुँक पर दु म (बहै िसयत मछली
एक जानवर) बरAखलाफ नीचे चलने वाले एक जानवर) या
Aझली व ज़ेर मH को िगरे हु ए जानवर दु म वाले मवे शी
पैदा होने वाले सीगओं वाले
जानवर मवे शी या नीचे
को िगरे हु ए सीv ग
(बहै िसयत एक
जानवर)

* बाके खाने एक जानवर क है िसयत मH उसी तरह ह= िगन लेवH, जैसा Fक एक आदमी के Aजःम मH बारह खाने या Aजःम पर 9 मह मुकरर Fकये गये हZ .

अःथान व तEत- जाए ॄg गुV गाय मैदान जँगी लेन लआमी ःथान jान ःथान गृ हAःत साधु जbम ःथान मारग अःथान, धम; ःथान ठगी tार मैदान रज़क साधू ःमाधी
मैदान बैठक ःथान दे न ःथान बता;व बूचड़ खाना, रँ ज
ओ गम

मुतफक; अँग Aजःम मकानात व\ आAखर= चँमा रजक औलाद मZबरान कबीला धन क थैली उमर हालत बज़ुरगाँ लेख क हदबंद=, तबीयत ब तरफ रात का आराम
आिशयाँ (लड़Fकय
या (फालतू धन) (मैदान Fकःमत) धम;
लड़क
के
रँतेदार)

दरखत (पौधे) जड़= बूट= (दवाई शाख दबा कर तना फल वाले रस भरे फल
के पीऊँद= पौधे साग स/जी फूल फली दार गुदा न फलदार ना जड़ - वह काँट
वाले साया दार बगैर खुदरौ,

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

क) पैदा शुदा दख;त पौधे दार गौदे (पौधे) फूलदार आकाश बनातात जो दरEत काँटे के दरEत झलकादार
व पौधे बे ल जड़
क तरह दरEत
जमीन के अँदर
अँदर ह= रहH

मकान क पुराना खुद ससुराल का भाई बंद


का , माता खाbदान औलाद का नानका घर या Wी, लड़Fकय
के कॄःतान ज़X= बज़ुगM पता का या खर=द करदा हमसाया का
Fकःम साखता ताये चचे का मासी फूफ का भाँजे का रँतेदार
का वीराना अपना बनाया मकानात
हु आ मगर तीन
साल से ^यादा
अरसा का बना
हु आ या 20
साला रहाqशी

Aजःम पर 12 महता या चेहरे गद; न , गुदा पलक,चशम, सीना छाती, पेट पेट,िशकम पुँत ( कमर) रान,पाँव, अँदाम ए पrू नथने, वीज; घुटने जानू चूतड़ पेशानी कफ पाए हwड=
खाने का अँदर ,ितलक क बाजू, Aजगर खून माता(औरत का (Vहानी मद; का पीठ, चेहरा, Aजलद, मुसाम, िनहानी,(नँगा मणी पँजर िसर
जगह माथे पर टे वा) नाभी पेट टे वा) का बाहर औरत,नाड़H , पःतान Aजःम ) पीठ,
का अँदर पःतानका क8ची चरबी,
िसरा(औरत) पुड़पड़=

आम खुदा के घर भी मन मँFदर हमचू मा द=गरे बाबर ब एश सचा सखन राह पीछे रहने वाल
धन क फालतू बमार= का सबब पछले जbम का साया आकबत पहला हाकम हर योग अिभयास
Eयािलयाँ ना जाएँगे बन दरवेश कलँदर नेःत ,अकल कोश Fक आलम राःत , दु िनया का हाल तायदाद थैली, तायदाद व लेन दे न उमर जादू मँतर, व\ तरफ पहला हर तरफ
बुलाए हु ए, तायदाद मकान बड़= Fक भैसँ दोबारा नेःत , का तराजू,धम; मदाs फैसला ताकत शाद= बजुगाs शाद=, इलम तालुक, आAखर= नतीजा
नाःतक पन जोर ओ दौलत काँटा अरसा बमार= रयाज़ी मुलका ताqदाद और
Aज़bदगी का दु िनया शाने औलाद
मतलब

ब8चे क बंद साथ लाया हु आ व\ गृ हAःत व\ जवानी साथ लाया हु आ व\ औलाद बुढ़ापा ढलती साथ लाया माल दु िनया का बाहर, वादे नी माली साथ लाया हु आ वादे नी माली वादे नी माली
मुJठa माल ओ जवानी, तालुक धन,मुJठa का ,दू सर
से जो जवानी, ओ जायदाद गैबी दु ख, हालत व\ माल ओ खुराक हालत व\ जbम हालत गैबी
Aजःम,जमाना रँतेदार
से जो बरादरान, दू सर
अँदर पावे मुःतA@बल रँतेदार
से जो बीमार= बचपन,पछले दू सर
से पावे तालुक
हाल लेगा, गैबी से जो पावे. के िलये लेगा गैबी जbम का रँतेदार
से
तालुक तालुक (मदद) तालुक या लेगा
(Vहानी) Fहःसा जो दू सर

से पावेगा

मह
क मुलका आिसयाँ

मह दे वी दे वता पेशा िसफत खािसयत ताकत मुलका धातH Aजःम पर मह


चेहरे पर गहl क मुलका पोशाक तरबूज मे मह
जानवर मुलका दरEत मुतका

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

क मुलक मुकरर जगह क िमसाल


जगह

बृ हःपित ॄgा जी ॄाgण पूजा पाठ Vहानी पँFडत हवा, Vह व हाकम ओ सोना,पुखराज गद; न नाक बजुज पगड़= दःतार डं ड= शेर बबर या पीपल का दरEत
और सार (सोने पेशा साँस,पता गुV मअकोम साँस माथा व नाक का शेरनी
से मुलका) सुख लेने व दलाने क िसरा
ताकत का
मािलक

सूरज वंणु भगवान yऽी राजपूत बहादर Aजःम आग, गुःसा, गमM का भँडार= माणक, ताँबा, तमाम का दायाँ Fहःसा सेहरा, कलगी वजन बंदर-बंदरया, तेज फल का
पालन करता Aजःम, अकल िशलाजीत तमाम Aजःम पहाड़= गाय पूर= दरEत
तमाम अँग, कपला गाय
इलम

चँदर िशव जी कोहार,{यूर, रह=म, पानी, शाँती , सुख, शाँती, चाँद= मोती (दू ध Fदल बायाँ Fहःसा धोती परना पानी घोड़ा - घोड़= पोःत का हरा
महाराज पूज जैन धमM दयालू,हYदद; Fदल, माता, दयालुता का रँ ग ) पौधा जब तक
जायदाद जX= मालक, माता क इस मH दू ध हो
मुह/बत पऽ
या
बजुगl क सेवा
क ताकत

शुकर लआमी जी खुमार , दे श का आिशक िमज़ाज िमJट=,काम दे व, Fदली मुह/बत िमJट=, मोती iखसारा iEसारा के खत कमीज बीज नील गाय कपास का पौधा
सतकार आजजी,Wी और लगन (दह= रँ ग) ओ खाल
जमींदार गृ हAःत िमJट= क कुवत (बनावट)
ए नफसानी
औरत क लगन
ऐश पसंद= क
ताक़त इशक ओ
मुह/बत

मँगल नेक हनुमान जी जँग जु (यो|ा) मद/बर (हौसले हौसला, भाई, जँग ओ जदल, लाल(कमती Aजगर ऊपर का ह
ठ बाःकट गूदा आम शेर या नीम का दरEत
सफा 1003 वाला) खाना पीना, खून करना प4थर) खूनी शेरनी
लड़ाई कराना लाल रँ ग जो
चमकला न हो

मँगल बद Aजbन भूत कसाई मुत@बर (घमंड=) कना वर= खाने पीने क चमकला लाल Aजगर नीचे का ह
ठ नंगा िसर गूदा ऊँट ऊँटनी, डे क का दरखत
ताक़त प4थर Fहरण

10

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

बुध दु गा; जी ठFठयार दलाल जी हजूरया बोलना, Fदमागी, अ@ल ओ हु नर, ह=रा,पbना Fदमाग का ढाँचा, नाक का िसरा टोपी, नाड़ा जायका बकरा, बकर=, केला (पौधा)
2यापर= हु नर, नसीहत, दःती पेशा ओ जुबान, दाँत, (अगला Fहःसा) (अज़ारबँद) भेड़, चमगादड़ चौड़े प
के
पेशा दःती हु नर मँद= , नाड़H तड़ागी, पेट= दरEत िसवाय
बोलने बुलाने क बढ़ के दरEत के
ताक़त, लोग
मH
रसूख पैदा करने
क ताक़त

सिनचर भैर
जी लोहार, तरखान, मूख,; अ@खड़, दे खना, भालना, जादू-मँतर लोहा फौलाद बनाई बाल भवH पुड़पड़= जुराब, जूता छाल भZस या भZसा ककर या आक
मोची कार=गर चालाक, मौत दे खना Fदखाने (मदार) क
बीमार= क ताकत का दरEत, खजूर
मािलक का दरखत

राहू सरःवती जी भँगी , शूि चालबाज, सोचना, रहनुमाई, नीलम, Fदमागी लहरH , ठोड= पाजामा, पतलून क8चा-प@का हाथी, हथनी नारयल का
म@कार, नीच , Eयालात कपणा- िस@का,गोमेध तमाम Aजःम के पन काँटेदार जँगली दरEत, कुा
जािलम बजली, खौफ, कलपाणे क बगैर िसफ; िसर चूहा, कटहना; घास (काँटे
दु ँमनी, भूचाल ताक़त का का Fहःसा वाला) भखड़ा
मािलक

केतू ौी गणे श जी मज़हब और बरदबाव, सुनना, पाँव क चलना दोरँ गा प4थर, िसर के बगैर कान, पाँव, र=ढ़ दु पJटा, कँबल रँ ग धारयाँ कुा,कुया, इमली का
दु िनयावी वाल
बारकश-बोझा नकल ओ हरकत Fफरना,या गैर
वैद ु रया(कैJस बाक तमाम क हwड=, औढ़ना गधा, दरEत, ितल
के
क हदबंद= से उठाने वाला से िमलने आई) Aजःम पेशाबगाह, गधी,सूअरनी पौधे, केला(फल)
आज़ाद कुली, मज़दू र िमलाने क घुटने, दद; जोड़ सूअर,िछपकली
ताक़त

मह
क मुका खानावार अिसयाँ

बृ हःपित शेर नर, गाय ःथान, दु गा; पूजन, बारश, सोना नाक, केसर मुग,; गiड़ FकताबH,दमा, अफवाह, नकारह जX= मकान, सूखा पीपल, िगट, मुलYमा पीपल का हरा
Fकिमयागर, मेहमान नवाजी, तालीम दु िनयावी (परbदा), मLडक, आवारा खलक, फक़र मAःजद मँFदर नुकसान जर, दरEत, आम
सुनार, पूजा, धन माया, कःतूर=, सेब साधू,खाली हवा का यग दान गुitारा, चलता तालीम ख4म , हवा, आम
पेशानी,पीले रँ ग, चने क दाल मंद= व उड़ता वजूद, गँधक दु िनया, साँस
चलता साधू गैस वगैरह पीतल

11

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

सूरज Fदन का गँदम बाजरा Fदन क औलाद दाT आँख का इकलौता (जो गँदमी रँ ग पाँव Vहानी(रवज़ानी रथ गाड़= स8ची भूरा र=छ, गृ हण भूरा नेवला, भूर= सुख ; ताँबा भूर= 8यूँट=,
व\,दायाँ Fहःसा भतीजे डे ला, भूआ का अकेला ह= क खराबयाँ ) खराबयाँ, गाय प@क आग खुद के बाद का सूरज भZस, िसलाजीत Fदमागी
या आँख नमक लड़का भाई अकेला ह
) लाल या गाय ब खुद पैदा शुदा (धात) खराबयाँ
सफेद लड़का, लाल मुँह सुफेद (मंदा
का बँदर असर), गाय
ःयाह
मददगार,भोड=
गाय(बगैर सीv ग

के) मुबारक

चँदर Fदल, बाग, बायाँ माता, दू ध, आम घोड़ा, िशव तालाब कूआँ, चकोर,(परँ दा), खरगोश (मादा), खेती क ज़मीन समुँदर, बालाई ज़ायदाद रात का व\,तह चाँद=, मोती खुशामद, सफेद
Fहःसा, बायीं चावल, Vहानी जी भोले नाथ , चँमा, तह आक का दू ध सफर (अपनी या जX= आमदन, िमगM, ज़X=,गैबी समुँदर ज़मीन,आम अनबध (दू ध बली, मीv ह का
आँख का डे ला Fहःसा, सफेद चरायता ज़मीन का पानी, मगर आबाद= क मुदा;Fदली पानी मगर खारा रँ ग सफेद) खूनी पानी, औले,
घोड़ा शाँती न हो, बफ; या कड़वा, कूआँ, उड़ते मुँक काफूर
अफम बादल

शुकर iखसारा,पराई आलू, गाय शाद=, सती या दह=, चौपाया घुमार का आवा िचFड़या, लऔक चर=, (सफेद Aजमीकँद, सफेद(दह=)रँ ग िमJट= कपास Vई, मोती सफेद कामधेनु गाय,
औरत क अःथान , सतवँती औरत चरँ द, या भJठा, सफेद गाय मँद=, जवार) सफेद गाजर, कॄ, सफेद गाय गैर (दह= रँ ग) लआमी (चौपाया
मुह/बत घी(ज़द; ), अॄक Tट,काँसी का खुसरा (न मद; न गाय , हर दो भोड= सफेद गाय मुबारक व गृ हAःत
सफेद मुँक बत;न औरत) सुथरा मुह/बत ,फल मँद= औरत) का सुख
काफूर, भोड= सागर
गाय(बगैर सीv गो
के)

मँगल दाँत 32/31 चीता Fहरण पेट, ह


ठ ,छाती तलवार,डे क का भाई , नीम का नाभी, छुछुँदर बेलH(फली दार बाजुओं के बगैर सुख ; रँ ग (खूनी) शअद, मीठा िसँधूर (लाल बुलँद आवाज,
,सौफ,अनाज क दरEत ,सुख ; दरEत पौधे) दाल मसूर, बाक तमाम भोजन,खाँड रँ ग) हाथी का
कोठa िमच;,घँड=- नाभी पहला लड़का, Aजःम महावत, गलो
धुbनी के अजवायन (कड़वी बे ल)
दरिमयान क
बमारयाँ,मृ ग
शाला मुबारक

बुध जुबान, िसर का खड़ा अँडा, भतीजी, तोता- कलमी, बाँस, फक़र क फूल ,लड़क, हर= घास, भोड= लेटा अँडा, मुदा; भूत- दाँत, खुँक उटा घड़ा, कंठa अँडे - Aखलौने,
ढ़ाँचा लड़क
जैसी चमगादड़, चौड़े खड़ा अँडा, भूआ , आवाज, मैना, खड़ा अँडा, गाय, मैना, फूल, बहन ूेत.चमगादड़, घास, शराब वाला तोता, सीप गँदा(जहर=ला)
लड़क, मूँग प
का मासी, क8चा आशीवा;द, दू ध दोहती, आम दू सर= चीज
का स/ज रँ ग, कवाब या भूत ह=रा , फटकड़= अँडा
सालम, कलम दरखत,,बान घड़ा वाला बकरा, थूहर ठ+पा या ढाँचा थुथलाना, स/ज क खुराक,
12

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents
Astrostudents Collections

मह 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12

क िनब, साली, (द=मक क पोती , जँगल सीFढ़याँ मकान,


बाजा(सामान Fकःम) भूत ह=v ग,
राग) मटर श\ (ताकत), ढोल(सामान
िछर थूहर , राग)
मुदा; VहH मँदे
वजूद

सिनचर हलक का कौवा, माश सालम, खजूर का काले कड़े , सुरमा ःयाह, क2वा, चील दरं दे, ःयाह ब8छु, पुरानी लकड़=, मगरम8छ,साँप, लोहा, फौलाद मसनूई ताँबा,
गँदा कड़ा, मँद= काली िमच;, चने दरEत,कमती मकान, तेल, बुधु लड़का परbदा, बनौले, गाय, सुरमा कनपट=,पुड़पड़=, शीशम (टाहली) तेल साबुन, ट=न मछली,
आग, नमक खुआह ःयाह लकड़=(शाह हरFकःम , बेर= का दरखत, सफेद, बनाई, pत के बगैर फलाह=, आक कपड़े धोने क तEतपोश,
ःयाह, ककर का खुआह सफेद, बलूत, आबनूस, सँगमरमर- प4थर का हर Fकःम का खड़= द=वारH (मदार) का लाँडर= बादाम, िसर पर
दरEत चँदन क लकड़= सागवान) सफेद, दयार कोयला मसाला दरEत टटर=
चील क लकड़=,
कैल क लकड़=

राहू ठोड=, नाना, हाथी के पाँव क तHदु आ जुबान, Eवाब या Eवाब छत काला कुा पूरा नारयल झोला (बीमार=), दहलीज, नीला गँद= नाली, गक€, नीलम, नीला हाथी, समुँदर का
नानी िमJट=,सरस
, जौ(अनाज), का जमाना सोया काला मालीखौिलया, रँ ग, घँड= (हलक) भड़भूँजे क थोथा, सीसा तLदवा,क8चा
क8चा धूँआ ःयाह रँ ग Fदमाग,धिनया( द=वार क से ऊपर क भJठa (िस@का), नम; कोयला, पदम
रँतेदार, हाथी मसाला) अँगीठa का धुआँ बीमारयाँ धात
दाँत अलुिमिनयम,
Aजःत

केतू टाँग,नानका इमली, ितल र=ढ़ क हwड= सुनना -कान पेशाब गाह िचड़ा (िचFड़या दू सरा लड़का, कान- सुनने क दोरँ गा कुा या चूहा दोरँ गा कमती िछपकली,
घर,नाभी(धुbनी ,फोड़े फुँसी का नर), सूअर, गधा ताकत,छलावा, कुया मगर (ःयाह व सफेद) मुतबbना,पलँग
से नीचे क खरगोश नर, धोखेबाज लाल रँ ग न हो कमती प4थर (चारपाई)
बीमार=याँ) पूजा अःथान केला(फल)
िमJट= का
चबूतरा,
चारपाई,
+याज,लसन

13

join http://groups.yahoo.com/group/astrostudents